Love Shayari

Love Shayari

Hume tumse mohabbat

में तुमसे मोहब्बत न होती
सिर्फ दो ही हालात में…
या तुम न बने होते
या फिर ये दिल न बना होता।


hamen tumase mohabbat na hotee
sirph do hee haalaat mein…
ya tum na bane hote
ya phir ye dil na bana hota

कोई टूटे तो उसे संभालना सीखो,
कोई रूठे तो उसे मनाना सीखो,
रिश्ते तो मिलते हैं मुकद्दर से,
उन्हें बस खूबसूरती से निभाना सीखो।


koi toote to use sambhaalana seekho,
koi roothe to use manaana seekho,
rishte to milate hain mukaddar se,
unhen bas khoobasoorati se nibhaana seekho.

चाँद भी छुप जाता है उसके मुस्कुराने से,
दिन भी ढल जाता है उसके उदास हो जाने से,
क्यों वो नही समझ पाते हैं हाल-ए-दिल मेरा,
मेरी धड़कन रुक जाती है उसके रूठ जाने से।


chaand bhee chhup jaata hai usake muskuraane se,
din bhee dhal jaata hai usake udaas ho jaane se,
kyon vo nahee samajh paate hain haal-e-dil mera,
meree dhadakan ruk jaatee hai usake rooth jaane se.

Itna dur nai jana

जिन्दगी में इतना भी दूर न जाना कि हम आपसे मिल न पायें,
यूं हमें ही याद करते रहना,
कहीं हम आपके दिल से निकल न जायें।


zindagee mein itana bhee door na

jaana ki ham aapase mil na paayen,
yoon hamen hee yaad karate rahana,
kaheen ham aapake dil se nikal na jaayen.

मेरी आंखों में तुम अपनी दुनिया बसा लेना,
मेरे दिल में तुम अपना घर बना लेना,
तेरे दिल में बसी है जान मेरी,
तुम अपनी जान को मेरी जान बना लेना।


meree aankhon mein tum apanee duniya basa lena,
mere dil mein tum apana ghar bana lena,
tere dil mein basee hai jaan meree,
tum apanee jaan ko meree jaan bana lena.

तेरे ना होने से जिंदगी में,
बस इतनी सी कमी रहती है,
मैं लाख मुस्कराऊँ फिर भी,
इन आँखों में नमी सी रहती है।


tere na hone se jindagee mein,
bas itanee see kamee rahatee hai,
main laakh muskaraoon phir bhee,
in aankhon mein namee see rahatee hai.

Tujhe dekhna meri adat

तुझे देखना मेरी आदत बन चुकी है,
तुझसे बात करना मेरी चाहत बन चुकी है,
मरते दम तक तुझे भुला नहीं सकूंगा मैं,
क्योंकि तू मेरी इबादत बन चुकी है।


tujhe dekhana meree aadat ban chukee hai,
tujhase baat karana meree chaahat ban chukee hai,
marate dam tak tujhe bhula nahin sakoonga main,
kyonki too meree ibaadat ban chukee hai.

प्यार करते हैं तुझसे ख्वाबों की मुलाक़ात में,
हिचकियां लेते रहते हैं दिन भर तेरी याद में,
ये माना कि हम रोज मिल नहीं सकते तुझसे
पर कुछ पल ज़रूर बिता लेते हैं तेरी याद में।


pyaar karate hain tujhase khvaabon kee mulaaqaat mein,
hichakiyaan lete rahate hain din bhar teree yaad mein,
ye maana ki ham roj mil nahin sakate tujhase
par kuchh pal zaroor bita lete hain teree yaad mein।

राहों में मेरे साथ चल तू,
थामे मेरा हाथ चल तू,
अगर आ जाए कितनी भी मुश्किलें,
न छोडूंगी कभी तेरा साथ कह तू।


raahon mein mere saath chal too,
thaame mera haath chal too,
agar aa jae kitanee bhee mushkilen,
na chhodoongee kabhee tera saath kah too.

Rahne do mujhko yu

रहने दो मुझको यूँ उलझा हुआ-सा
अपने लोगों में,
सुना है सुलझ जाने से धागे अलग-अलग हो जाते हैं।


rahane do mujhako yoon ulajha hua-sa
apane logon mein,
suna hai sulajh jaane se dhaage alag-alag ho jaate hain.

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *