Love Shayari

Love Shayari

Parwah karo uski

परवाह करो उसकी जो तुम्हारी परवाह करे,
जिन्दगी में जो कभी ना तुमको तन्हा करे,
धड़कन बन कर धड़क जा उसके सीने में,
जो जान से भी ज्यादा तुझसे प्यार करे।


paravaah karo usakee jo tumhaaree paravaah kare,
jindagee mein jo kabhee na tumako tanha kare,
dhadakan ban kar dhadak ja usake seene mein,
jo jaan se bhee jyaada tujhase pyaar kare.

कभी कभी तुम भी रूठ जाया करो
मनाने के लिए फिर मुझे घर बुलाया करो
हम भी तुझे मनाने के लिए लाएंगे चॉकलेट्स
फिर बदले में मुझे एक पप्पी देकर भाग जाया करो।


kabhee kabhee tum bhee rooth jaaya karo
manaane ke lie phir mujhe ghar bulaaya karo
ham bhee tujhe manaane ke lie laenge chokalets
phir badale mein mujhe ek pappee dekar bhaag jaaya karo.

दिल की जिद हो तुम…
वरना इन आंखों ने
बहुत से हंसीन चेहरे देखें हैं।

main ye nahin jaanata ki main kya dekhata hoon..
bas ye maaloom hai ki aankhon mein teree,
main saara jahaan dekhata hoon

Bewajah muskara deta hu

बेवजह मुस्करा देता हूं मैं
जब तेरा ख्याल आता है।
लोग कहते हैं तुझे उसको याद करने
के अलावा और भी कुछ आता है।


bewajah muskara deta hoon main
jab tera khyaal aata hai.
log kahate hain tujhe usako yaad karane
ke alaava aur bhee kuchh aata hai.

मैं ये नहीं कहता ….
कि कोई तुम्हारे लिए दुआ न मांगे,
मैं तो बस इतना चाहता हूं,
कि कोई मेरे सिवा तुझे दुआ में न मांगे।
main ye nahin kahata ….


ki koee tumhaare lie dua na maange,
main to bas itana chaahata hoon,
ki koee mere siva tujhe dua mein na maange.

मैं अल्फ़ाज़ हूँ तेरी हर बात समझता हूँ,
मैं एहसास हूँ तेरे जज़्बात समझता हूँ,
कब पूछा मैने की क्यों दूर हो मुझसे,
मैं दिल रखता हूँ तेरे हलात समझता हूँ।


main alfaaz hoon teree har baat samajhata hoon,
main ehasaas hoon tere jazbaat samajhata hoon,
kab poochha maine kee kyon door ho mujhase,
main dil rakhata hoon tere halaat samajhata hoon.

dil hi dil mai kuch chhupati hai

दिल ही दिल में कुछ छुपाती हो तुम,
यादों में अक्सर मेरा चैन चुराती हो तुम,
ना जाने कहां से ये जादू सीख रखा है,
सोते वक्त सपनों में आकर बहुत तड़पाती हो तुम।


dil hee dil mein kuchh chhupaatee ho tum,
yaadon mein aksar mera chain churaatee ho tum,
na jaane kahaan se ye jaadoo seekh rakha hai,
sote vakt sapanon mein aakar bahut tadapaatee ho tum.

हमसे प्यार है तुम्हें पर भरोसा नहीं,
ये सोच कर ही हमने तुम्हें रोका नहीं,
तुम ये बात खुदा से पूंछ लो,
हम तुम्हारे प्यार में जान दें देंगे पर धोखा नहीं।


hamase pyaar hai tumhen par bharosa nahin,
ye soch kar hee hamane tumhen roka nahin,
tum ye baat khuda se poonchh lo,
ham tumhaare pyaar mein jaan den denge par dhokha nahin।

तलाश उसकी करो जो किसी के पास ना हो,
भुला दो उसे जिस पर विश्वास ना हो,
हम तो अपने गमों पर भी हंस लेते हैं,
वो इसलिए कि सामने वाला उदास ना हो।


talaash usakee karo jo kisee ke paas na ho,
bhula do use jis par vishvaas na ho,
ham to apane gamon par bhee hans lete hain,
vo isliye ki saamane vaala udaas na ho

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *