Romantic Shayari,रोमांटिक

Romantic Shayari In Hindi

Romantic shayari from husband to wife

तुझे इनकार है मुझसे; मुझे इकरार है तुझसे,
तू कफा है मुझसे; मुझे चाहत है तुझसे,
तू मायूस है मुझसे ;मुझे खुशी है तुझसे,
तुझे नफरत है मुझसे और मुझे प्यार है सिर्फ तुझसे।


tujhe inakaar hai mujhase; mujhe ikaraar hai tujhase,
too kapha hai Mujhe
; Mujhe chaahat hai tujhase,
too maayoos hai mujhase ;mujhe khushee hai tujhase,
tujhe napharat hai mujhase aur mujhe pyaar hai sirph tujhase.

नकाम सी कोशिश किया करते हैं,
हम हैं कि उनसे प्यार किया करते हैं,
खुदा ने तकदीर में एक टूटा तारा नहीं लिखा,
और हम हैं कि चांद पाने के लिए मरा करते हैं।


nakaam see koshish kiya karate hain,
ham hain ki unase pyaar kiya karate hain,
khuda ne takadeer mein ek toota taara nahin likha,
aur ham hain ki chaand paane ke lie mara karate hain.

ये पागलपन है चाहत में या
मेरी आँखों की मस्ती…
खोलूँ तो दीदार तुम्हारा,
बँद करूँ तो तस्वीर तुम्हारी..।


ye paagalapan hai chaahat mein ya
meree aankhon kee mastee…
kholoon to deedaar tumhaara,
band karoon to tasveer tumhaaree…

रोमांटिक शायरी हिंदी में

दिल को मेरे बड़ा प्यारा है तू,
मेरे लिए मेरी जां से भी प्यारा है तू,
नहीं चाहिए और कुछ भी मुझे जिन्दगी में
इतना ही काफी है कि सिर्फ मेरा है तू


dil ko mere bada pyaara hai too,
mere lie meree jaan se bhee pyaara hai too,
nahin chaahie aur kuchh bhee mujhe jindagee mein
itana hee kaaphee hai ki sirph mera hai too

couple shayari in hindi

कभी इतना सोच कर तुम भी देखो,
जितना मैं तुम्हारे बारे में सोचता हूं,
तुम भी प्यार में पागल न हो जाओ
तो फिर कहना।


kabhee itana soch kar tum bhee dekho,
jitana main tumhaare baare mein sochata hoon,
tum bhee pyaar mein paagal na ho jao
to phir kahana.

एक अनजानी सी लड़की मेरे खवाब में आती है,
उसकी खिलखिलाती हंसी दिल को छु जाती है,
जब भी चाहता हूं कि उसके चेहरे को देख लूं,
कमबख्त न जाने कहां से नींद खुल जाती है।


ek anajaanee see ladakee mere khavaab mein aatee hai,
usakee khilakhilaatee hansee dil ko chhu jaatee hai,
jab bhee chaahata hoon ki usake chehare ko dekh loon,
kamabakht na jaane kahaan se neend khul jaatee hai.

दिल कागज़ की कश्ती हो गया

shayari in hindi

दिल कागज़ की कश्ती हो गया
सैलाब में डूबी गरीब बस्ती हो गया
मोहब्बत में क्या डूबा ये दिल औ जह़न
मैं नाकाम,दिल-ए-बर्बाद हस्ती हो गया