Sad Shayari

Sad Shayari
sad shayari image

इश्क में बढ़ रही है बेचैनियां,,
थोड़ी सी शरारत करने दो…
छुपा के रख लो अपने दिल में,,
या फिर मोहब्बत बेशुमार करने दो.. !!


Ishq mein badh rahee hai bechainiyaan,,
thodee see sharaarat karane do…
chhupa ke rakh lo apane dil mein,,
ya phir mohabbat beshumaar karne do.. !!

Waqt

sad shayari image

Kadar or waqt bhi kamal ke hote he
Jinki kadar karo wo waqt nhi deta
Jinko waqt do wo kadar nahi Karta


कदर और वक्त भी कमाल के होते हैं
जिनकी कदर करो वो वक़्त नही देता
जिनको वक्त दो वो कदर नही करता

sad shayari image

न जाने किसकी मेरी खूबसूरत जिंदगी पर नजर लग गई
जो लोग मुझसे पल पल में बात करते थे
वो तो आज मुझे देख कर इग्नोर करने लगे है


na jaane kiski meri khoobasoorat jindagi par najar lag gyi
jo log mujhase pal pal mein baat karate the
vo to aaj mujhe dekh kar ignor karane lage hai

sad shayari image

कोई करिश्मा, करामत हो जाए ए रब,
ख़्वाब से जब आंख खोलु और वो मेरे सामने हो।


koi karishma, karaamat ho jae e rab,
khvaab se jab aankh kholu aur vo mere saamane ho.

bepanha mohabbat

sad shayari image

लगा कर आदत बेपनाह मोहबबत की
अब वो कहते है समझा करो वक्त नही है।


laga kar aadat bepanaah mohababat kee
ab vo kahate hai samajha karo vakt nahee hai

sad shayari image

ज़िन्दगी में मैंने कितना वक्त बर्बाद कर दिया,
उसकी खुशी के लिए उसको आबाद कर दिया,
उसको तो ज़रूरत थी मेरा साथ सिर्फ कुछ पल के लिए,
और मैंने कमबख्त अपनी पूरी ज़िन्दगी उसके नाम कर दिया…।


zindagi mein mainne kitana waqt barbaad kar diya,
usakee khushee ke lie usako aabaad kar diya,
usko to zaroorat thi mera saath sirf kuchh pal ke lie,
aur mainne kamabakht apani pooree zindagi usake naam kar diya…

sad shayari image

जिंदगी में कभी धुप तो कभी छाव आया करती है,
पर जिंदगी हर पल नया नया सिखाया करती है,
जिंदगी कभी छोटी छोटी बाते सिखाया करती है,
तो कभी कभी बड़े बड़े सबक सिखाया करती है।


jindagee mein kabhee dhup to kabhee chhaav aaya karatee hai,
par jindagee har pal naya naya sikhaaya karatee hai,
jindagee kabhee chhotee chhotee baate sikhaaya karatee hai,
to kabhee kabhee bade bade sabak sikhaaya karatee hai.

mai bhi ek din shant ho jaunga

मैं भी एक दिन शांत हो जाऊंगा
देखना मैं भी सुशांत हो जाऊंगा…!!!
कभी “मौका” मिला तो…हम “किस्मत” से…”शिकायत” जरूर करेंगे
क्यों “दूर” हो जाते हैं…वो “लोग”…जिन्हें हम “टूटकर” चाहते हैं


main bhee ek din shaant ho jaoonga
dekhana main bhee sushaant ho jaoonga…!!!
kabhee “mauka” mila to…ham “kismat” se…”shikaayat” jaroor karenge
kyon “door” ho jaate hain…vo “log”…jinhen ham “tootakar” chaahate hain

बड़ी सिद्दत से चाहे थे तुझे ऐ जाने हसीन
पर तूने मुझे उन जैसा समझा
जो लड़कियों को समझते हैं अफीम


badee siddat se chaahe the tujhe ai jaane haseen
par toone mujhe un jaisa samajha
jo ladakiyon ko samajhate hain apheem

शीशा और रिश्ता दोनों ही
बड़े नाज़ुक होते हैं
दोनों में सिर्फ एक ही फर्क है
शीशा गलती से टूट जाता है
और रिशता गलतफहमियों से


sheesha aur rishta donon hee
bade naazuk hote hain
donon mein sirph ek hee phark hai
sheesha galatee se toot jaata hai
aur rishata galataphahamiyon se

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *