Sad Shayari

Sad Shayari

mohabbat kar lo

कायम हैं अभी दुनिया में रिश्वतों के सिलसिले,
तुम भी कुछ ले दे कर
हमसे मोहब्बत कर लो।


kaayam hain abhee duniya mein rishvaton ke silasile,
tum bhee kuchh le de kar
hamase mohabbat kar lo.

हालातों से लड़ने का हुनर दे गया,
कोई अपना ही मुझको धोखा दे गया।
मलाल नहीं है मुझे इस बात का,
क्योंकि यही तो मुझे दोबारा किसी से
दिल न लगाने का सबक दे गया।


haalaaton se ladane ka hunar de gaya,
koee apana hee mujhako dhokha de gaya.
malaal nahin hai mujhe is baat ka,
kyonki yahee to mujhe dobaara kisee se
dil na lagaane ka sabak de gaya.

हालातों से लड़ने का हुनर दे गया,
कोई अपना ही मुझको धोखा दे गया।
मलाल नहीं है मुझे इस बात का,
क्योंकि यही तो मुझे दोबारा किसी से
दिल न लगाने का सबक दे गया।


haalaaton se ladane ka hunar de gaya,
koee apana hee mujhako dhokha de gaya.
malaal nahin hai mujhe is baat ka,
kyonki yahee to mujhe dobaara kisee se
dil na lagaane ka sabak de gaya.

likhawat aise hoti

काश कोई लिखावट ऐसी भी होती,
जिसका असर उनपे भी होता,
बया हम भी कर सकते हे लफ्ज़ से दिल का हाल,
क्या करू खफा हो जाएंगे ये डर सताता है।


kaash koee likhaavat aisee bhee hotee,
jisaka asar unape bhee hota,
baya ham bhee kar sakate he laphz se dil ka haal,
kya karoo khapha ho jaenge ye dar sataata hai.

कहते हैं लोग….
प्यार, मोहब्बत, इश्क
और जंग में सब जायज है,
फिर न जाने उसने क्या
समझ लिया इसे
जो बेवफाई कर दी हमसे।


kahate hain log….
pyaar, mohabbat, ishk
aur jang mein sab jaayaj hai,
phir na jaane usane kya
samajh liya ise
jo bevaphaee kar dee hamase.

तुम बिन अब हम खुश रहते हैं..
तुम्हारे ख्यालों में अब न खोया करते हैं,
जो तूने मेरे साथ किया ऐसा न हो किसी के साथ दोबारा,
भगवान से बस यही दुआ हम करते रहते हैं।


tum bin ab ham khush rahate hain..
tumhaare khyaalon mein ab na khoya karate hain,
jo toone mere saath kiya aisa na ho kisee ke saath dobaara,
bhagavaan se bas yahee dua ham karate rahate hain.

Dard sahne ko mila

ज़रूरी नहीं है कि हमेशा बुरे कर्मों की वजह से ही दर्द सहने को मिले।
कई बार हद से ज़्यादा अच्छे होने की भी क़ीमत चुकानी पड़ती है।


zarooree nahin hai ki hamesha bure karmon kee vajah se hee dard sahane ko mile.
kaee baar had se zyaada achchhe hone kee bhee qeemat chukaanee padatee hai.

ए जिंदगी, तुझे अच्छा कहूं या बुरा ये तो नहीं जानता पर,
तू गुजर तो रही है पर उसके प्यार में मदहोश करके तड़पाती चली जा रही है।


ae jindagee, tujhe achchha kahoon ya bura ye to nahin jaanata par,
too gujar to rahee hai par usake pyaar mein madahosh karake tadapaatee chalee ja rahee hai.

hum unse pyar karte hai

ना वो बेवफा है और ना ही वो वफा करते है,
पता है मुझे उसकी वजह ,फिर भी हम उनसे प्यार करते है।


na vo bewafaa hai aur na hee vo vapha karate hai,
pata hai mujhe usakee vajah ,phir bhee ham unase pyaar karate hai.

मुझे मालूम है कि उसको भी तड़पाती होगी शायद मेरी यादें,
बस यही बात मुझे अक्सर लिखने नहीं देती हाल- ए- दिल मेरा।


mujhe maaloom hai ki usako bhee tadapaatee hogee shaayad meree yaaden,
bas yahee baat mujhe aksar likhne nahin detee haal- e- dil mera

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *